धार्मिक स्थलों को नुकसान पहुंचाने वालों पर हो कड़ी कार्यवाही

– विश्व हिन्दू परिषद व बजरंग दल कार्यकर्ताओं का कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन

तेज़ एक्सप्रेस न्यूज़ –
-प्रदीप पाल / राजस्थान

1.हनुमानगढ़. हिंदुओं के धार्मिक स्थलों को नुकसान पहुंचाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने एवं धार्मिक स्थलों की सुरक्षा करने की मांग को लेकर शुक्रवार को विश्व हिन्दू परिषद व बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने जिला कलक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के बाद जिला कलक्टर को गृहमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। प्रदर्शन कर रहे उक्त हिन्दू संगठनों के कार्यकर्ताओं ने बताया कि तीन दिन पहले दिल्ली के चांदनी चौक में एक विशेष समुदाय के लोगों ने भीड़ में आकर 100 वर्ष पुराने प्राचीन मन्दिर में घुसकर आराध्य देवी-देवताओं की मूर्तियों को खण्डित कर दिया। मन्दिर को भारी नुकसान पहुंचाया। इसके साथ मन्दिर के आसपास रहने वाले हिंदुओं के घरों में भी तोड़-फोड़ की। इस कारण दिल्ली में हिंदुओं में भय का माहौल बना हुआ है। उन्होंने आरोप लगाया कि मुस्लिम समुदाय की जहां ज्यादा आबादी है, वहां पर एक विशेष योजनाबद्ध तरीके से हिंदुओं व हिंदुओं के धार्मिक स्थलों को नुकसान पहुंचाया जा रहा है। ऐसी घटनाएं आम मिलती हैं और दिल्ली की घटना इसका ताजा उदाहरण है। इस मामले को लेकर पूरे देश में रोष है। इस गंभीर विषय को लेकर विहिप व बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने हिंदुओं के धार्मिक स्थलों को दिल्ली सहित पूरे देश में सुरक्षा उपलब्ध करवाने और धार्मिक स्थलों को नुकसान पहुंचाने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने की मांग की ताकि देश में हिन्दू समाज खुद को सुरक्षित महसूस कर सके।

बिगड़ रही कानून व्यवस्था को नहीं सभाला तो भाजयुमो करेगी तेज आंदोलन: देवेंद्र पारीक
भाजयुमो जयपुर सभांग प्रभारी के नेतृत्व में हनुमानगढ़ टाउन थाना प्रभारी को दिया ज्ञापन
-प्रदीप पाल-
2.हनुमानगढ़. भारतीय जनता युवा मोर्चा राजस्थान प्रदेश के जयपुर सभांग प्रभारी देवेन्द्र पारीक के नेतृत्व में हनुमानगढ़ टाउन थाना प्रभारी को कानून व्यवस्था के संबंध में ज्ञापन दिया गया। पारीक ने बताया आए दिन घरों में चोरियां हो रही है। चैन स्नेचिंग, मोबाइल फोन छीनना एवं लूटपाट की घटनाएं बढ़ रही हैं। वहीं नशे का कारोबार भी बढ़ रहा है, जिसमें गोली, कैप्सूल, चिट्टा आदि मादक पदार्थों का नशा अत्यधिक बढ़ रहा है। छोटे छोटे बच्चे एवं नौजवान भी इसकी गिरफ्त में आ रहे हैं। चोरियां होने का यह भी एक बड़ा कारण है। परिवार के परिवार इस नशे की वजह से बर्बाद हो रहे हैं। समाज में भय का वातावरण व्यापक है। इस को लेकर थाना प्रभारी को ज्ञापन दिया गया है और शहर में गश्त बढ़ाकर एवं कानून व्यवस्था को चाकचौबंद कर इन सब चीजों पर अकुंश लगाया जाए एवं साथ ही ट्रैफिक एवं कानून व्यवस्था के नाम पर छोटे छोटे रेहड़ी व्यापारियों व छोटे दुकानदारों को ट्रैफिक व्यवस्था के नाम पर पुलिस प्रशासन द्वारा प्रताडि़त किया जाना न्यायसंगत नहीं है। इसलिए जल्द से जल्द इन समस्याओं का समाधान करें अन्यथा भारतीय जनता युवा मोर्चा आन्दोलनात्मक कार्यवाही करेगा। इसकी समस्त जिम्मेदारी पुलिस प्रशासन की होगी। इस मौके पर पार्षद महादेव भार्गव, पार्षद रमेश पेंटर, पूर्व पार्षद रोहित छापोला, कुलवंत सिंह, राम कुक्कड़, सागर शर्मा मंडल अध्यक्ष हनुमानगढ़ जंक्शन, अनिल नागपाल, हनी नागपाल ,दीपेश अरोड़ा, गुरचरण सिंह ,काला सिंह, डॉ. उदयपाल, डॉ. रामचंद्र कड़वासरा, विकास शर्मा, अमन वर्मा ,बृजलाल, संदीप बेनीवाल आदि कार्यकर्ता मौजूद थे।

जहरीले पानी से राज्य की 4 नहरें हो रही प्रदूषित, सिंचित क्षेत्र में बढ़ रहे कैंसर रोगी, इसे रोकना जरूरी: रामेश्वर वर्मा
केमिकलयुक्त गंदा पानी राजस्थान की नहरों में डालने पर रोक लगाने की मांग, मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन
-प्रदीप पाल-
3.हनुमानगढ़. भारत की कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को पंजाब से केमिकलयुक्त गंदा पानी राजस्थान की नहरों में डालने पर रोक लगाने बाबत ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि पंजाब के शहरों के सीवरेज का दूषित पानी व उद्योगों का जहरीला केमिकल युक्त पानी पंजाब में ही हरीके बेराज पर सतलुज और ब्यास नदी के संगम से पहले अनेक स्थनों पर बड़े पैमाने पर और लम्बे समय से सतलुज नदी में प्रवाहित किया जा रहा है। हरिके बेराज से नहरों से होकर यह पानी राजस्थान के 8 जिलों में पेयजल व सिंचाई पानी के रूप में प्रयोग किया जात है। सतलुज में दूषित व जहरीला केमिकल युक्त पानी डालने के लिए बकयादा बड़े-बड़े नाले बने हैं। जलन्धर के पास स्थित काला संगईया ड्रैन का झागदार, काला व जहरीला पानी करीब 40 किलोमीटर चलने के बाद मलसईया के पास चिट्टी बई में मिल जाता है मलसईया से पहले भी तीन बड़े नाले चिट्टी बई में मिलते हैं। ये चिट्टी बई हरीके बेराज से पहले गिदड़ पिंडी गांव के पास सतलुज में समा जाती है। इसी तरह जलन्धर के उद्योगों से जहरीले पदार्थों को बहाकर सतलुज में डालने वाला उधा नाला लुधियाना के पास वलीपुर कल्ला के पास सतलुज में मिलता है। इस तरह चिट्टी बई बुढा नाला द्वारा सतलुज नदी के पानी को दूषित किया जाता है। पंजाब में लगे ट्रीटमेन्ट प्लांट भी सीवरेज के गंदे पानी को ट्रीट करने में सक्षम नहीं है, जबकि सीवरेज में जहरीले अपशिष्टों को प्रवाहित किए जाने की वजह से ट्रीटमेंट प्लांट भी नाकारा हो चुके हैं। यह कि दूषित पानी नहरों के माध्यम से राजस्थान के 8 जिलों में पहुंचता है। इस जहरीले व प्रदूषित पानी की वजह से राजस्थान की 4 नहर परियोजना गंगनहर, भाखड़ा व इन्दिरा गांधी नहर परियोजना के द्वारा सिंचित क्षेत्र में कैंसर के रोगियों की संख्या में वृद्धि हो रही है। नहरी क्षेत्र में दूसरी क्षेत्रों के मुकाबले 160 गुणा ज्यादा कैंसर फैल रहा है। रामेश्वर वर्मा ने बताया कि पूर्व में ये मामला उच्चतम न्यायलय व एनजीटी के में कई बार संज्ञान लिया जा चुका है लेकिन समस्या आज भी जस की तस बनी हुई है। इसलिए भारत की कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी जिला हनुमानगढ़ मांग करती है कि पंजाब से केमिकलयुक्त गंदा पानी राजस्थान की नहरों में डालने से रोक लगाए ताकि इस क्षेत्र में जनता को होने वाले रोगों पर अंकुश लग सके अन्यथा आन्दोलन उग्र करना होगा जिसकी जिम्मेवारी प्रशासन व सरकार की होगी। इस मौके पर रामेश्वर वर्मा, रघुवीर वर्मा, बलदेव मक्कासर, बहादुर सिंह चैहान, मोहन लोहरा, पलविन्द्र सिंह व अन्य कार्यकर्ता मौजूद थे।

स्कूल बंद नहीं करने की गुहार लेकर कलक्टर के पास जाएंगे बच्चे
– कैनाल कॉलोनी विद्यालय में दूसरे दिन भी जारी रहा धरना, डीईओ से वार्ता बेनतीजा
-प्रदीप पाल-
4.हनुमानगढ़। कैनाल कॉलोनी के राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय में महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम विद्यालय संचालित करने के विरोध में विद्यार्थी व उनके अभिभावक शनिवार को जिला कलक्टर से उनके आवास पर मिलकर विद्यालय को बंद नहीं करने की गुहार लगाएंगे। यह निर्णय शुक्रवार को विद्यालय में धरनास्थल पर हुई बैठक में लिया गया। बेमियादी धरना शुक्रवार को दूसरे दिन भी जारी रहा। इससे पहले शुक्रवार को जिला शिक्षा अधिकारी राजेन्द्र सिंह यादव व अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी रणवीर शर्मा वार्डवासियों से वार्ता करने के लिए धरनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने धरना दे रहे लोगों के बीच बैठकर वार्ता की। लेकिन वार्ता बेनतीजा रही। धरनार्थियों ने डीईओ से कहा कि यह स्कूल बंद नहीं होना चाहिए। अगर स्कूल बंद हो गया तो बच्चे कहां जाएंगे। वर्तमान में राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय कैनाल कालॉनी में अध्ययनरत बच्चों को अन्यत्र नजदीक स्कूलों में प्रवेश दिलाना है लेकिन वार्ड 38, 39 व 10 में एक ही हिन्दी माध्यम राजकीय विद्यालय था। अन्य राजकीय विद्यालय 2.5 से 3 किमी की दूरी पर हैं और तीनों वार्डांे के आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के 105 बच्चे इस विद्यालय में अध्ययनरत हैं। नजदीक स्कूल नहीं होने की वजह से इन बच्चों को अन्यत्र प्रवेश संभव नहीं है। इन वार्डांे में एक तरफ रेलवे लाइन व बाकी तीनों तरफ मु य सड़कें हैं। उन्होंने इन बच्चों के भविष्य को देखते हुए न्याय संगत व उचित कार्यवाही करते हुए इस विद्यालय को यथावत संचालित करने की मांग की। इस पर डीईओ यादव ने कहा कि उनके हाथ में कुछ नहीं है। उनकी तरफ से हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। सरकार से बात की जा रही है। वार्ता में संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर वार्डवासियों ने धरना जारी रखने व शनिवार को विद्यालय में अध्ययनरत 105 विद्यार्थियों को उनके अभिभावकों के साथ जिला कलक्टर जाकिर हुसैन के समक्ष पेश करने का निर्णय हुआ। वार्ता में माकपा के राज्य सचिव मण्डल सदस्य रामेश्वर वर्मा, माकपा जिला सचिव रघुवीर सिंह वर्मा, शिव कुमार, पार्षद पति जीतू सोनी, पार्षद परमजीत सोनी, विजय कौशिक, बीएस पेंटर, मोहनलाल लोहरा, कृपाराम सिंहमार, वेद मक्कासर, नारायण नायक, प्रदीप शर्मा आदि मौजूद थे। गौरतलब है कि जंक्शन की कैनाल कॉलोनी, वार्ड न बर 38 में राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय में संचालित हो रहा था लेकिन राज्य सरकार के आदेशों की अनुपालना में इसमें महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम विद्यालय संचालित होना है। वार्डवासी सरकार के इस निर्णय का विरोध कर रहे हैं।

-प्रदीप पाल-
6.हनुमानगढ़ जिले के टिब्बी कस्बे में शुक्रवार को कसवां आई टी आई में आगजनी से बचाव के लिए जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया कार्यक्रम में पीआर फायर सेफ्टी इंस्टीट्यूट हनुमानगढ़ जंक्शन के डायरेक्टर राजवीर व उनकी टीम ने छात्रों को आगजनी से निपटने के गुर सिखाए व प्राथमिक आग को बुझाने वह फैलने से रोकने के बारे में जानकारी दी
साथ ही साथ राजवीर ने छात्रों को एलपीजी सिलेंडर की सेफ्टी व सिलेंडर में आग लगने पर बरती जाने वाली सावधानी के बारे में भी बताया
कार्यक्रम में आईटीआई के डायरेक्टर मनेंद्र सिंह ने छात्रों को रोड सेफ्टी के बारे में अवेयर किया व सड़क सुरक्षा के नियमों का पालन करने के लिए शपथ दिलवाई कार्यक्रम के अंत में आईटीआई की प्राचार्य परविंदर कौर ने फायर सेफ्टी टीम का आभार व्यक्त किया

1 Views