वी मार्ट शापिंग माल के कर्मचारियों ने लगाया उत्पीड़न का आरोप

घोटालेबाज स्टोर मैनेजर मनोज सेंगर धमका रहा कर्मचारियों को
सीएसए कर्मचारियों ने जिलाधिकारी से लगाई न्याय की गुहार
महिला कर्मचारियों से सर्वर रूम में बुलाकर मैनेजर करता है बदतमीजी

तेज़ एक्सप्रेस न्यूज़ – नरेंद्र कुमार सिंघानिया

उरई(जालौन)। स्थानीय वी मार्ट शापिंग माल के कर्मचारियों ने आज जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर शारीरिक एवं मानसिक शोषण करने वाले माल के स्टोर मैनेजर मनोज सिंह सेंगर एवं पीआरओ आकांक्षा सेंगर के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की है।
जिलाधिकारी को दिए गए ज्ञापन में डेढ दर्जन से अधिक सीएसए कर्मचारियों ने अवगत कराया कि वह अंबेडकर चैराहे स्थित वी मार्ट शापिंग माल में कार्य कर रहे है। शापिंग माल में स्टोर मैनेजर मनोज सिंह सेंगर एवं पीआरओ आकांक्षा संगर ने मिली भगत कर करीब 13 लाख 93 हजार रुपये का सालाना गवन किया है। आडिट में स्थिति साफ होने के बाद गवन करने वाले मनोज सेंगर, आकांक्षा सेंगर अब अपनी काली करतूतों का ठीकरा कर्मचारियों के सिर फोड़ने की फिराक में है इसलिए वह पिछले एक हफ्ते से हम लोगों को रोक सर्वर रूम में बुलाकर डरा धमकाकर मानसिक एवं शारीरिक रूप से प्रताड़ित कर रहा है। घर वालों की कसमे दे रहा और झूठी एफआईआर एवं मुकदमे में फंसाने की धमकी दे रहा है। यहीं नही सर्वर रूम में बुलाकर महिला कर्मचारियों के साथ गलत व्यवहार किया जा रहा है। उन्हें धमकी दी जा रही है कि घोटाले का आरोप कर्मचारियों पर लगाओ नही तो तुम लोगों को भी फर्जी तरीके से फंसाकर नौकरी से निकाले देगे। उन्होंने आरोप लगाया कि सिक्योरटी सुपर वाइजर को सात दिन से लगातार प्रताड़ित किया जा रहा है उसके परिवार की मानसिक एवं आर्थिक हालत खराब है। महिलाओं को कर्मचारियों को अंदर बुलाकर गंदी-गंदी गालिया देकर चोरी का आरोप स्वीकार करने का दवाब बना रहे है। महिला कर्मचारी होने के कारण शारीरिक एवं मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है। ज्ञापन में कहा गया है कि स्टोर खुलने का समय सुबह 10ः23 से रात 9ः30 तक है। जबकि हम सभी कर्मचारियों से 11 बजे तक काम करवाया जाता है। 9 घंटे की ड्यूटी के बाद भी 15-16 घंटे काम कराते है। इमरसेंजी होने पर दिन में कोई छुट्टी नही दी जाती है घरवालों से बात भी नही करवाते है। आते-जाते समय सिक्योरटी गार्ड द्वारा सभी कर्मचारियों की तलाशी ली जाती है। स्टोर में सीसीटीबी कैमरे लगे है। आने जाने के गेट पर भी कैमरे लगे है। लेकिन आज तक किसी तरीके की चोरी का आरोप नही लगा। स्टोर में जब भी माल आता है रात के समय आता है। जिसका विवरण एवं रखरखाव स्टोर मैनेजर मनोज सिंह सेंगर एवं आकांक्षा सेंगर द्वारा किया जाता है। सीएसए कर्मचारियों ने जिलाधिकारी से स्टोर मैनेजर एवं आकांक्षा सिंह के खिलाफ कार्यवाही करने और उनके द्वारा नौकरी से बाहर करने की दी जा रही धमकियों पर कार्यवाही की जाए।

3 Views