उरई में अराजकतत्वों ने तोड़ी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी की प्रतिमा

– मामले को दबाने में जुटा रहा स्कूल व पुलिस प्रशासन

तेज़ एक्सप्रेस न्यूज़ – नरेंद्र कुमार सिंघानिया

उरई (जालौन) नगर में आज अराजकतत्वों ने गांधी इंटर कालेज में लगी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा को खंडित करते हुए उनकी गर्दन को काटकर क्षतिग्रस्त करके भाग गए। इसकी जानकारी तब हुई जब कालेज के प्रधानाचार्य वहां पहुंचे और उन्होंने गांधी की प्रतिमा को खंडित देखा तो सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस के आलाधिकारी मौके पर पहुंचे और मामले की जांच में जुट गए। वहीं घटना की जानकारी कांग्रेसियों को हुई तो उनमें उबाल आ गया और उन्होंने गांधी इंटर कालेज पहुंचकर अपना आक्रोश व्यक्त करते हुए वहीं धरना देना शुरू कर दिया। साथ ही अराजकतत्वों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

घटना उरई कोतवाली क्षेत्र के स्टेशन रोड स्थित गांधी इंटर कालेज की है जहां सन 1970 में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने इस कालेज में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा का अनावरण किया था। उस समय इस कालेज के संस्थापक चतुर्भुज शर्मा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष थे। इस मूर्ति का इंटर कालेज के अध्यापक और कर्मचारियों द्वारा प्रतिदिन माल्यार्पण किया जाता था। आज जब यहां के प्रिंसिपल रविशंकर अग्रवाल और उनके अध्यापक माल्यार्पण करने पहुंचे तो वहां पर गांधी जी की प्रतिमा खंडित देखी तो वह हैरान हो गए। गांधी जी की प्रतिमा की गर्दन, चश्मा और लाठी गायब थी जिसकी सूचना उन्होंने तत्काल कोतवाली पुलिस को दी।

सूचना मिलते ही कोतवाली पुलिस के साथ अपर पुलिस अधीक्षक मौके पर पहुंचे और मामले की जांच में जुट गए। जब मामले की जानकारी कांग्रेसियों के साथ सपा कार्यकर्ताओं को हुई तो जिलाध्यक्ष चौ. श्याम सुंदर, अनुज मिश्रा, आशीष चतुर्वेदी और सपा के प्रांतीय नेता प्रदीप दीक्षित की अगुवाई में दर्जनों कांग्रेसी और सपाई गांधी इंटर कालेज पहुंच गए और उन्होंने जमकर आक्रोश व्यक्त करते हुए अराजकतत्वों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए गांधी प्रतिमा के नीचे धरना देते हुए जिला प्रशासन और केंद्र व राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। धरना दे रहे कांग्रेस जिलाध्यक्ष चौ. श्याम सुंदर, जिला उपाध्यक्ष अनुज मिश्रा, आशीष चतुर्वेदी व सपा के प्रांतीय नेता प्रदीप दीक्षित सुरेंद्र मौखरी ने कहा कि यह है सोचीसमझी साजिश के तहत किया गया है। उन्होंने कहा कि गांधी जी की 150वीं जयंती के पहले यहां नई मूर्ति स्थापित की जाए और जो भी इसमें दोषी है उसके खिलाफ कार्रवाई की जाए। इस मौके पर रेहान सिद्दीकी, राजीव नारायण मिश्रा, अरविंद सेंगर, पवन पाल, करन श्रीवास्तव, अखिलेश चौधरी, सिद्धार्थ दीवौलिया आदि मौजूद रहे। वहीं अपर पुलिस अधीक्षक डा. अवधेश सिंह ने बताया कि मामले में कार्रवाई की जाएगी और जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ शिकायत मिलने पर कार्रवाई की जाएगी। वहीं गांधी जी की प्रतिमा को सही करा दिया है।

1 Views