*दीपोत्सव कार्यक्रम के माध्यम से सर्वोच्च न्यायालय के ऐतिहासिक फैसले का किया स्वागत

**रामलला के स्वागत में ग्रेट इण्डिया महासभा ने मन्दिरों पर किये दीप प्रज्वलित*नरेंद्र कुमार सिंघानिया संवाददाताईंटों। जालौन।सर्वोच्च न्यायालय के पंच परमेश्वर द्वारा भारत के गौरव को उच्च शिखर की ओर पथ प्रदर्शित करते हुए दिनाँक नौ नवम्बर को एक भारत श्रेष्ठ भारत की परिकल्पना को पूर्ण करते हुए दोनों पक्षों की आस्था का सम्मान रखते हुए लिए गए ऐतिहासिक निर्णय से देश और समाज को बहुत सुंदर सन्देश दिया सर्वोच्च न्यायालय ने भारत देश मे चली आ रही सदियों पुरानी गंगा जमुनी तहजीब की कहावत को भी एक बार पुनः स्थापित कर दिया सर्वोच्च न्यायालय के द्वारा लिए गए सर्वोच्च निर्णय का ग्रेट इण्डिया महासभा ने सम्मान किया सर्वोच्च न्यायालय द्वारा रामजन्मभूमि प्रकरण को सदैव के लिए विराम करने पर ग्राम ईंटो में भगवान परशुराम चौक,शिवाभवानी मन्दिर, राधाकृष्ण मन्दिर,रामजानकी मन्दिर,नरसिंह भगवान मन्दिर, हनुमान जी मन्दिर ग्राम सिगटौली में रामजानकी मन्दिंर पर दीपोत्सव कार्यक्रम रखकर फैसले का भव्य स्वागत किया गया और मिष्ठान प्रसाद वितरण कर ग्रामीणों एवं समाजसेवियों ने शान्ति पूर्ण तरीके से खुशी व्यक्त की।इस मौके पर भोला पाठक,संजय गुप्ता,लवकुश त्रिपाठी ग्रेट इण्डिया महासभा राष्ट्रीय अध्यक्ष सियाराम शिवहरे,नीलकमल, श्रीकान्त तिवारी, आशीष तिवारी,कान्हा रेजा, श्रीरमण,गोपाल,पप्पू,दीपक, रामजी गुप्ता, योगेश त्रिपाठी, पंकज,रब्बू,बबलू, रजनीकांत, उपेन्द्र,लकी,ललेश,पवन, सुदामा,गोलू,कल्लू,सौरव, आदि सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

2 Views