प्राथमिक शिक्षक संघ (सुशील पांडे ग्रुप ) की पहली ब्लॉक स्तरीय बैठक ही विवादों के घेरे में

तेज़ एक्सप्रेस न्यूज़ – नारायण दास गुप्ता

बीजपुर(सोनभद्र)

मंगलवार की शाम म्योरपुर ब्लाक के जरहा न्याय पंचायत केंद्र पर उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षक संघ (सुशील पांडे ग्रुप ) की पहली ब्लॉक स्तरीय बैठक ही विवादों के घेरे में आ गई l बैठक में अपने संगठन की वाहवाही के लिए संगठन के पदाधिकारियों द्वारा दूसरे शिक्षक संगठनों की बुराई करने से वहां उपस्थित शिक्षक, शिक्षामित्र और अनुदेशक भड़क उठे और मीटिंग छोड़कर चल दिए l उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षा मित्र संघ के ब्लॉक अध्यक्ष अजय सिंह ने प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहां की बैठक की सूचना एनपीआरसी व्हाट्सएप ग्रुप पर भ्रामक तरीके से डालकर सभी शिक्षकों , शिक्षामित्रों और अनुदेशकों को बैठक में बुलाया गया जबकि उक्त बैठक प्राथमिक शिक्षक संघ की थी l बैठक में शिक्षक संघ के पदाधिकारियों द्वारा अपनी वाहवाही करने के लिए दूसरे संगठनों के जिला स्तरीय पदाधिकारियों की बुराई किया गया l उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षक संघ के ब्लॉक अध्यक्ष इकरार हुसैन ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि अपने संगठन विस्तार के लिए दूसरे संगठनों पर आरोप लगाना निंदनीय है l उक्त मामले में सरकारी तंत्र का प्रयोग करते हुए एनपीआरसी मोहन मिश्रा के माध्यम से एनपीआरसी ग्रुप पर भ्रामक तरीके से सभी को बुलाए जाने की जांच की जानी चाहिए l बैठक में ब्लॉक अध्यक्ष के चयन को भी गैर वैधानिक बताते हुए मामले को शिक्षकों में मतभेद पैदा करने का प्रयास बताया l यूटा के वरिष्ठ जिला उपाध्यक्ष हीरामणि विश्वकर्मा ने आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि मंगलवार की शाम संपन्न हुई बैठक को जिले के अन्य शैक्षिक संगठनों को नीचा दिखाने के लिए बुलाया गया था जिसमें एनपीआरसी की भी भूमिका संदिग्ध है , शिक्षक हित में सभी संगठनों को इसका ध्यान रखना चाहिए l बैठक में उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षक संघ (सुशील पांडे ग्रुप )के जिलाध्यक्ष योगेश पांडे द्वारा मंच से सीधे धर्मेंद्र यादव का नाम ब्लॉक अध्यक्ष के लिए प्रस्तावित कर दिए जाने से भी शिक्षकों में कई तरह की चर्चाएं व्याप्त है l शिक्षकों ने आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा की जब मनोनयन ही करना था तो शिक्षक हित में भीड़ जुटाने की क्या आवश्यकता थी l

7 Views