म्योरपुर में पुलवामा हमले की याद में शिक्षकों ने निकाला कैंडल मार्च

तेज एक्सप्रेस न्यूज़ /संदीप अग्रहरि/ अमित रावत

शुक्रवार को म्योरपुर में वैचारिक शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन के तत्वाधान में पुलवामा में हुए आतंकवादी हमला में शहीद सीआरपीएफ जवानों के लिए श्रद्धांजलि सभा एवं कैंडल मार्च का आयोजन किया गया इस दौरान म्योरपुर पूरे कस्बे में कैंडल मार्च निकाला गया नम आंखों से श्रद्धांजलि देते हुए शिक्षकों ने एक स्वर में कहा कि इस घटना की जितनी निंदा की जाए उतना कम है।इस दुख की घड़ी में हर कोई शहीद जवानों के परिजन के साथ खड़ा है औऱ पूरा देश एक साथ है।इस मौके पर अपने संबोधन में अध्यापक शारदा प्रसाद ने कहा की कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों द्वारा जवानों पर किए गए कायराना हमले की जितनी निंदा की जाए उतना कम है।यह हमला किसी विश्वासघात से कम नहीं है।हमले में राष्ट्र की हिफाजत करते हुए शहीद हुए चालीस से ज्यादा जवानों के परिवार की पीड़ा का आंका नहीं जा सकता।उनकी कुर्बानी अनमोल है जिसके लिए राष्ट्र हमेशा उनका ऋणी रहेगा।भारत की आन बान और शान तिरंगा सच्चे अर्थों में हवा से नहीं बल्कि वीर जवानों के सांस से लहराता है।पुलवामा हमले के शहीदों के बरसी के मौके पर देश की रक्षा कर रहे सीमा के प्रहरियों को पुरानी पेंशन की बहाली की मांग को शांतिपूर्वक कैंडल मार्च किया कैंडल मार्च के मौके पर विष्णु दयाल यादव, देव नारायण,विनोद गुप्ता,बसंत यादव,शारदा प्रसाद, अवध बिहारी,दिनेश यादव,ज्ञानेंद्र शुक्ला,मनीष व शिवमूर्ति सहित सैकड़ो अध्यापक मौजूद रहे।

33 Views