महिला चिकित्सक पर पैसे लेकर गर्भपात का आरोप ,चिकित्सक ने बताया उन्हें हटाने की है कुछ लोगों साजिश

तेज़ एक्सप्रेस न्यूज़ – इब्राहिम खान / विष्णु गुप्ता

दुद्धी / सोनभद्र

विंढमगंज थाना क्षेत्र के जोरुखाड़ निवासी एक विवाहिता ने दुद्धी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर तैनात महिला चिकित्सक डॉ स्मृता सिंह पर अनचाहे गर्भ की डीएनसी कराने के नाम पर 25 सौ रुपये लेने का आरोप लगाया है ,जबकि चिकित्सक ने मीडिया को दिए बयान में कहा है कि यहां अस्पताल में गर्भ में पल रहे शिशु व जच्चा के स्वास्थ्य हितों में इलाज किया जाता है।,यहां किसी प्रकार की गर्भपात नहीं कराया जाता महिला का आरोप निराधार है ,यह कुछ दिन पहले यहां अपने गर्भ में पल रहे शिशु की जांच कराने आयी थी तो मैंने अल्ट्रासाउंड को लिखा जो फिर आयी ही नही,महिला ने बताया था कि वह 1 वर्ष पहले नसबंदी करवाई थी लेकिन गर्भ ठहर गया ।
आज दोपहर अस्पताल पहुँची विवाहिता फूलकुमारी 28 पत्नी विनोद निवासी जोरुखाड़ ने आरोप लगाया है कि वह 1 वर्ष पूर्व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र दुद्धी में नसबंदी करवाई थी क्योंकि उसके पहले से ही तीन बच्चे है और बच्चा नही चाहती।लेकिन 15 दिन पूर्व उसे गर्भ ठहरने का अहसास हुआ तो उसने यहां तैनात डॉ स्मृता सिंह से
चेकअप करवाया था।आरोप लगवाया की डॉ स्मृता सिंह ने अनचाहे गर्भ को गिराने के लिए 2500 रुपये लेकर गर्भपात कराया था।अचानक पेट दर्द हुई तो वह रेनुकूट एक महिला चिकित्सक को दिखाई,उन्होंने अल्ट्रा साउंड की जांच करवा कर बच्चा जिंदा होने की बात बताई थी।उन्होंने सुझाव दिया था कि किसी अच्छे महिला चिकित्सक से पेट का ऑपरेशन करवाने की बात कही थी।परेशान विवाहिता ने वाराणसी के एक अस्पताल में ऑपरेशन करवा कर इलाज करवाया है और अपनी जान बचाई है।उसने कहा कि जो हमारा खर्च हुआ उसका हर्जाना यहां का अस्पताल प्रशासन और महिला चिकित्सक दे ,उसी की लापरवाही से यह सब हुआ है।

ऑन ड्यूटी महिला चिकित्सक ने विवाहिता के परिजनों पर लगाया दुर्व्यहार का आरोप,कहा 1 लाख की मांग कर रहें परिजन।

अपने कक्ष में मरीज़ देख रहे डॉ स्मृता सिंह ने आरोप लगाया है कि आज दोपहर एक मरिज के परिजन ने उनके साथ दुर्व्यवहार किया।परिजन ना जाने किस कारण से उनकी फोटो खींच रहे थे।आरोप लगाया कि परिजन उन्हें धमका कर 1 लाख रुपये की मांग कर रहें थे।कह रहे थें की हमारा बनारस में हुए खर्च आप दे दे नही तो वे चिकित्सक को बदनाम कर देंगे।कहा कि यह कुछ लोंगो की साजिश है उन्हें बदनाम करने की।