शासन के मंशा के अनुरूप महिलाओं पर बढ़ रहे हिंसा व अपराध पर त्वरित नियंत्रण व रोकथाम के लिए आज दुद्धी कोतवाली में महिला सहायता केंद्र का उद्घाटन

तेज एक्सप्रेस न्यूज इब्राहिम दुद्धी/

सोनभद्र| शासन के मंशा के अनुरूप महिलाओं पर बढ़ रहे हिंसा व अपराध पर त्वरित नियंत्रण व रोकथाम के लिए आज दुद्धी कोतवाली में महिला सहायता केंद्र का उद्घाटन सीएचसी दुद्धी में तैनात डॉ स्मिता सिंह फीता काटकर किया,आज दुर्गा सप्तमी के दिन से योगी सरकार ने महिलाओं को बिना किसी के डर भय खुलकर जीवन जीने ,पढ़ाई करने के लिए शक्ति प्रदान कर दी है। महिलाओं पर बढ़ रहे अपराधों को रोकने के लिए अब 180 दिनों तक विशेष अभियान ‘मिशन शक्ति’ के तहत चलाया जाएगा |
अब महिलाओं को अपनी शिकायत दर्ज कराने को किसी पुलिस कर्मी के पास नहीं जाना पड़ेगा इसके लिए महिला पुलिस कर्मी की तैनाती के साथ शिकायत केंद्र खोल दिया गया।
महिलाओं को जागरूक करते हुए प्रभारी निरीक्षक पंकज कुमार सिंह ने कहा कि मिशन शक्ति के लिए यहां कोतवाली में हेल्प डेस्क बनाया गया है , अभी तक महिलाओं व युवतियों को पुरुष पुलिस कर्मी के साथ दफ्तर में बात बताना पड़ता था।अब से कोई भी महिला या लड़कीं हो जिसके साथ समस्या हो वह बेझिझक बता सकती है।इसके लिए कोतवाली परिसर में एक कक्ष बहुत जल्द बनवाया जाएगा।प्रदेश में एंटी रोमियो स्कावयड बना है जिसमें शोहदों पर लगाम लगाया जा रहा है।पिछले दिनों 9 युवकों को पकड़ा गया है और उनको चेतावनी देकर छोड़ा गया है , स्कूल व कोचिंग के बाहर अब पेटिका लगाई जाएगी जिसमें युवतियां अथवा शिक्षा ग्रहण करने वाली बालिका छेड़खानी की घटनाओं का गोपनीय शिकायत कर सकती है।उन्होंने सरकार की विभिन्न हेल्पलाइनों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वोमेन लाइन 1090 का प्रयोग करे जिससे आपकी शिकायत लखनऊ पहुँचेगी ,181 हेल्पलाइन पहले से प्रयोग में लाई जा रही है ,1098 बच्चों के साथ हो रहे अपराध के लिए ,1076 मुख्यमंत्री का हेल्पलाइन है जहाँ अपनी किसी प्रकार की शिकायत दर्ज कराई जा सकती है।एसएसआई वंशनरायण यादव ने संबोधन में कहा कि आज के ही दिन प्रदेश के 1500 थानों में एक साथ महिला हेल्प डेस्क का उद्घाटन किया जा रहा है। सरकार महिलाओं पर बढ़ रहे अपराधों को रोकने के लिए दृढ़ संकल्पित है कहा कि जब 112 पर काल करेंगी तो15 मिनट के अंदर पुलिस मौके पर पहुँचेगी, 112 सेवा देश के 16 राज्यो में काम कर रही है। यहां कोतवाली में भी एक वैन ऐसी है जिसमे 24 घंटे महिला कर्मी नियुक्त रहती है।इसके लिए महिलाओं को अपनी झिझक को त्याग अपने साथ हो रहें हिंसा को चाहे तो हेल्पलाइन चाहे हो महिला सहायता केंद्र के माध्यम से दर्ज कराई जा सकती है।इस मौके पर एसआई संतोष कुमार सिंह , एसआई मनीष कुमार , एसआई डीएन द्विवेदी ,एस आई इमानूल खां हक एसआई सुजीत कुमार के साथ दिवान रंजीत सिंह , गजानंद, महिला कांस्टेबल शफीउल्लाह खाँ मुखिया करीमनडीह अनिता ,पूजा ,पूनम खरवार मौजूद रहे| पुष्पा देवी ,अंजना , बसंती, जोयस मसीह ,कौशल्या के साथ सैकड़ो महिलाओं ने पुलिस की बातों को गंभीरता से सुना।