टीबी की बीमारी के प्रति जागरूकता के लिए रविवार को दौड़ेगा इंदौर

[ad_1]



इंदौर. टीबी मुक्त इंदौर अभियान के तहत रन फॉर टीबी का आयोजन रविवार सुबह 7 बजे से किया जा रहा है। स्कीम नंबर 78 स्थित ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर से सत्य साईं चौराहा एवं सत्य साईं चौराहा से ब्रिलियंट कन्वेंशन तक रन फॉर टीबी का आयोजन होगा।

पुनरीक्षित क्षय नियंत्रण कार्यक्रम, सीईटीआई, एवं फेडरेशन ऑफ फैमिली फिजिशियन एसोसिएशन ऑफ इंडिया के सयुंक्त तत्वाधान में ज्ञानपुष्प रिसर्च सेंटर के सहयोग से इस दौड़ का आयोजन किया जा रहा है।दौड़ का उद्देश्य टीबी के प्रति जन सामान्य में जागरूकता फैलाना है।

डॉक्टरों के अनुसार टीबी की बीमारी से प्रति दिन 1000 लोगो की मौत हो जाती है। एक टीबी मरीज से 15 से 20 लोगों के संक्रमित होने का खतरा रहता है। इस बीमारी की गंभीरता को देखते हुए सीईटीआई संस्था पिछले 4-5 सालो से घर-घर जाकर टीबी के मरीजों को ढूंढने का कार्य कर रही है।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा इंदौर के कालानी नगर, चन्दन नगर, मूसाखेड़ी, आजाद नगर, मालवा मिल, गांधी नगर, खजराना, निरंजनपुर, बाणगंगा, भंवरकुआं आदि क्षेत्रो में मरीजो को ढूंढ कर उनका उपचार प्रारंभ करवाया गया है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Run for TB on Sunday in Indore

[ad_2]

Source link

यह है देश में करप्शन का हाल, ऊपर से चकाचक दिखने वाली सड़कों की यूं उखड़ गई पपड़ी

[ad_1]





राजस्थान/यूपी। अकसर आपने पढ़ा होगा-'अच्छी सड़कें देश की उन्नति!' लेकिन इन सड़कों को देखकर आप क्या कहेंगे? सड़कें उन्नति का रास्ता होती हैं। लेकिन अगर ऐसी सड़कें बिछाई जाती रहीं, तो देश चार कदम भी उन्नति की ओर नहीं बढ़ सकता। अब आप खुद ही देख लीजिए सड़कों का हाल।

– यह हैं देश में बिछे भ्रष्टाचार के रास्ते! एक सड़क राजस्थान के भरतपुर में बिछाई गई है। करीब 20 किमी लंबी इस सड़क का निर्माण पीडब्ल्यूडी ने किया है। सड़क कितनी मजबूत है, यह साफ देखा जा सकता है। बड़े-बच्चे सबने उसने हाथों से पपड़ी की तरह उखाड़ फेंकी यह सड़क।
-ऐसी ही एक सड़क प्रयाग में आयोजित कुंभ मेले के दौरान देखने को मिली। यह घटिया रोड छतनाग रोड झूंसी में बनाई गई। इन सड़कों ने भ्रष्टा तंत्र की कलई खोलकर रख दी है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Two videos related to corruption in Rajasthan and Uttar Pradesh, Shocking story of viral, bad roads

[ad_2]

Source link

एटीएस की बड़ी कार्रवाई, 61.82 लाख की हवाला रकम के साथ युवक को पकड़ा

[ad_1]



अजमेर. शहर में एटीएस राजस्थान की पुलिस टीम ने शुक्रवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए एक युवक को 61 लाख 82 हजार रुपए की हवाला रकम के साथ धरदबोचा। एटीएस ने युवक को अजमेर पुलिस के हवाले कर दिया। इसके बाद पुलिस ने युवक के कब्जे से रुपए जब्त कर आयकर विभाग को सूचना दे दी है। उससे गहनता से पूछताछ की जा रही है।

एटीएस अधिकारियों के मुताबिक पकड़े गए युवक का नाम राकेश जोशी निवासी (जायल) नागौर का होना बताया जा रहा है। एटीएस को राकेश द्वाराहवाला की बड़ी रकम लेकर अजमेर में डिलीवरी देने जाने की सूचना मिली थी। इस पर स्पेशल टीम गठित की गई।

शुक्रवार दोपहर को ज्योंही राकेश जोशी अजमेर में सिटी बसस्टैंड पर बस से नीचे उतरा। तभी मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर एटीएस ने राकेश को धरदबोचा। तलाशी लेने पर बैग से 2000 और 500 रुपए के नोटों की गडि्डयां मिली। जिनकी गिनती करने पर करीब 61 लाख 82 हजार रुपए होने का पता चला।

पुलिस का कहना है कि हवाला की रकम को राकेश ने जयपुर में चांदपोल से किसी से लिया था। इसके बाद इन रकम की डिलीवरी के लिए प्राइवेट बस में बैठकर जयपुर से अजमेर के लिए रवाना हुआ। वहां बस स्टैंड पर उतरते ही एटीएस टीम के हत्थे चढ़ गया।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


एटीएस की पकड़ में आया राकेश


राकेश के कब्जे से मिले लाखों रुपए के नोटों की गडि्डयां

[ad_2]

Source link

साइकिल चलाकर सचिवालय पहुंचे गहलोत सरकार के मंत्री, बोले- हर हफ्ते एक दिन साइकल चलाकर ऑफिस आउंगा

[ad_1]



जयपुर. गहलोत सरकार में परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास शुक्रवार को अपने घर से साइकिल चला कर दफ्तर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कहा कि वे जनता के सेवक हैं उन्ही की तरह रहना चाहते हैं। वे हफ्ते में एक दिन साइकिल चलाकर ऑफिस आएंगे।

साइकिल से सचिवालय पहुंचने के दौरान खाचरियावास के साथ बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे। इस दौरान उनके नाम के नारे भी लगाए गए। इस दौरान खाचरियावास ने कहा कि एक घंटा देश और जिंदगी के लिए दिया है। साइकिल चलाने से पर्यावरण सुधरेगा। जयपुर में ट्रेफिक भी सुधरेगा। गौरतलब है कि कार्यभार संभालते ही खाचरियावास ने हफ्ते में एक दिन साइकिल से सचिवालय आने की घोषणा की थी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Gehlot government minister pratp singh khachariyawas arrives at the Secretariat by cycling


Gehlot government minister pratp singh khachariyawas arrives at the Secretariat by cycling

[ad_2]

Source link

106वीं इंडियन साइंस कांग्रेसः डैंजर जोन में जाकर बम को सर्च करेगा यह रोबोट, रिमोट से ऑपरेट की नहीं पड़ेगी जरूरत…जानें ऐसी ही और खासियत

[ad_1]



जालंधरजालंधर में गुरुवार से 106वीं इंडियन साइंस कांग्रेस शुरू हुई। 7 जनवरी तक चलने वाली कांग्रेस के पहले दिन बेंगलुरू के सेंटर फॉर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड रोबोटिक्स (केयर) ने मिनी-यूजीवी रोबोट प्रस्तुत किया। ये रोबोट खतरे वाले स्थानों पर जाकर बम या संदिग्ध सामान को तलाशेगा। रोबोट को रिमोट से ऑपरेट करने की जरूरत नहीं होगी। अन्य रोबोट के साथ भी ये खुद-ब-खुद को-ऑर्डिनेट कर लेगा। डेवलपर ने बताया- "रिमोट कंट्रोल वाले रोबोट में कैमरा, सेंसर, राडार और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जोड़कर ये रोबोट तैयार किया गया है।'

डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (डीआरडीओ) ने चंडीगढ़ की टर्मिनल बैलेस्टिक रिसर्च लैैब (टीबीआरएल) में विकसित की गई प्लास्टिक बुलेट भी पेश की। इसकी खासियत यह है कि इसे हर सुरक्षाकर्मी के पास उपलब्ध एके-47 राइफल से ही फायर किया जा सकता है। प्लास्टिक बुलेट का वजन वास्तविक बुलेट से 10 गुना कम है। लगने पर प्लास्टिक बुलेट 10-12 मिमी गहराई तक घाव करती है, पर जानलेवा चोट नहीं लगती। टीबीआरएल निदेशक मंजीत सिंह ने बताया कि प्लास्टिक बुलेट जवान को उपलब्ध कराना आसान होगा। इसे विकसित करने वाले डॉ. प्रिंस शर्मा ने कहा कि गृह मंत्रालय ने एक लाख बुलेट की मांग की है। ये बुलेट महाराष्ट्र की वरणगांव की ऑर्डिनेंस फैक्ट्री में तैयार की जा रही हैं।

मिनी-यूजीवी रोबोट विस्फोटक पर पानी छिड़केगा, ढाई किलो तक वजन उठाएगा

ये रोबोट सीढ़ियों पर चढ़ सकता है, विस्फोटक पर पानी छिड़क सकता है, दो से ढाई किलो तक वजन वाले संदिग्ध सामान को उठाकर ला सकता है। डीआरडीओ के चेयरमैन सतीश रेड्डी ने बताया कि मिनी-यूजीवी का परीक्षण सफल रहा है और सुरक्षा एजेंसियों की जरूरत के हिसाब से इसके ऑर्डर तैयार किए जाएंगे।

एंटी-हाईजैकिंग ऑपरेशन के लिए भी बुलेट तैयार की गई

टर्मिनल बैलेस्टिक रिसर्च लैैब (टीबीआरएल) के निदेशक मंजीत सिंह ने बताया कि लैब में एयरक्राफ्ट मार्शल के लिए खास फ्रेंजिबिल बुलेट भी विकसित की गई है। इसका इस्तेमाल एंटी-हाईजैकिंग ऑपरेशन में किया जा सकता है। यह बुलेट आतंकी को मार सकती है या गंभीर रूप से घायल कर सकती है। लेकिन अगर गोली सीधे एयरक्राफ्ट की बॉडी में लगी तो केवल हल्का सा दाग आएगा। एयरक्राफ्ट में छेद नहीं होगा। एयरक्राफ्ट की बॉडी से टकराकर गोली पाउडर बनकर बिखर जाएगी। नाहन (हिमाचल प्रदेश) स्थित स्पेशल फोर्सेस ट्रेनिंग स्कूल ने डीबीआरएल से 50 हजार बुलेट उपलब्ध कराने के लिए कहा है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Jalandhar News mini ugv robot introduced in indian science congress

[ad_2]

Source link

जनाना हॉस्पिटल में 108 एंबुलेंस से कुचलकर प्रसूता के ससुर की माैत, दो घंटे बाद मिली पुलिस को सूचना

[ad_1]



जयपुर. चांदपोल बाजार स्थित जनाना महिला हॉस्पिटल में गुरुवार को शुक्रवार को दर्दनाक हादसा हुआ। जिसमें 108 एंबुलेंस से कुचलकर एक प्रसूता के ससुर की मौत हो गई। हादसे के बाद परिजनों में आक्रोश व्याप्त हो गया। दुर्घटना थाना पश्चिम पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार हादसे का शिकार रशीद (60) सवाई माधोपुर का रहने वाला था। वह अपने बहू को डिलीवरी के लिए जनाना अस्पताल लेकर पहुंचे थे।

  1. बहू को वार्ड में भर्ती करवाने के बाद वह अपने छोटे बेटे के साथ शुक्रवार सुबह करीब 8 बजे जनाना अस्पताल के पिछले गेट के पास खड़े थे। तभी एक इमरजेंसी केस लेकर पहुंची 108 एंबुलेंस की चपेट में आ गए। एंबुलेंस की टक्कर से रशीद अस्पताल परिसर में गिरे।

  2. इसके बाद एंबुलेंस के दोनों टायर रशीद पर चढ़ गए। कुचलने से रशीद गंभीर घायल हो गया। आनन फानन में रशीद को एंबुलेंस से ही एसएमएस अस्पताल के ट्रोमा सेंटर पहुंचाया गया। जहां रशीद ने दम तोड़ दिया।परिजनों का आरोप है कि घटना के बाद जनाना अस्पताल प्रशासन ने चुप्पी साध ली।

  3. उन्होंने पुलिस को सूचना नहीं दी। दुर्घटना थानाप्रभारी एएसआई माधोसिंह के मुताबिक सुबह करीब 10 बजे कंट्रोल रुम ने हादसे में रशीद के मौत होने की सूचना दी। इस पर वह एसएमएस अस्पताल की मोर्चरी पहुंचे। शव का पोस्टमार्टम करवाने के बाद परिजनों को सौंप दिया गया।

  4. इसके बाद परिजन शव लेकर सवाईमाधोपुर लेकर रवाना हो गए।रशीद के बेटे का आरोप है कि एंबुलेंस का ड्राइवर पेशेंट को अस्पताल में छोड़ने के बाद गाड़ी बैक ले रहा था। तब एंबुलेंस के शीशे बंद थे और तेज आवाज में हूपर बज रहा था। तेजी से गाड़ी पीछे लेने की वजह से वहां मौजूद रशीद पर टायर चढ़ गया।

  5. यह देखकर वहां मौजूद लोगों ने चिल्लाना भी शुरु कर दिया। लेकिन ड्राइवर और उनके साथ मौजूद साथी को कुछ पता नहीं चला। तब तक दूसरा टायर भी चढ़ गया। इससे रशीद वहीं गंभीर घायल हो गया।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      जनाना अस्पताल का पिछला इमरजेंसी गेट, जहां हादसा हुआ

      [ad_2]

      Source link

ससुराल से लौट रहे दंपती ब्रेकर पर बाइक फिसलने से गिरे, पीछे से आ रहे ट्रोले ने दोनों को कुचला, मौत

[ad_1]



घाटोल/बड़ोदिया. ससुराल में सामाजिक कार्यक्रम में भाग लेने के बाद वापसी के दौरान बहन के घर जा रहे बाइक सवार दंपती को खमेरा थाने से कुछ दूरी पर पीछे से आ रहे ट्रोले ने कुचल दिया, जिससे दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए। घायल बड़ोदिया निवासी 60 वर्षीय गणपतलाल और उनकी पत्नी 52 वर्षीय कांतादेवी को घाटोल सीएचसी ले गए, जहां प्राथमिक उपचार के बाद बांसवाड़ा रैफर किया, लेकिन रास्ते में दोनों ने दम तोड़ दिया। यह दर्दनाक हादसा खमेरा में गुरुवार सुबह हुआ।

जानकारी के अनुसार बड़ोदिया निवासी गणपतलाल और उसकी पत्नी कांतादेवी डूंगर स्थित ससुराल में सामाजिक कार्यक्रम में भाग लेने गए थे। बुधवार रात ससुराल में रुकने के बाद गणपतलाल अपनी पत्नी के साथ गुरुवार सुबह बहन के घर बड़ी पडाल जाने के लिए निकला था। डूंगर से घाटोल की ओर आने के दौरान हाईवे पर जंप पर बाइक का संतुलन बिगड़ गया, जिस कारण दोनों गिर गए। उसी दौरान पीछे से आ रहे ट्रोले ने कुचल दिया, जिसमें गणपत आगे के टायर नीचे आ गया अौर उसकी पत्नी का पैर पूरी तरह से टूट गया। हादसे में गणपतलाल के दायें हाथ व पेट पर गंभीर चोटें आई, दोनों को पुलिस जीप से तत्काल सीएचसी लाया गया। यहां डॉक्टरों ने घायलों का उपचार कर बांसवाड़ा एमजी अस्पताल के लिए रैफर कर दिया।

108 एंबुलेंस समय पर नहीं पहुंची

घाटोल सीएचसी से दोनों घायलों को बांसवाड़ा ले जाने के लिए 108 एंबुलेंस को कॉल किया, लेकिन करीब आधे घंटे तक इंतजार करते रहे। एंबुलेंस के नहीं पहुंचने पर आखिरकार दोनों को रिश्तेदार के निजी वाहन से बांसवाड़ा ले जा रहे थे कि रास्ते में ही दम तोड़ दिया। अगर उस समय एंबुलेंस समय पर आ जाती तो शायद दोनों घायल बांसवाड़ा अस्पताल पहुंच जाते तो शायद जिंदगी बच जाती। 108 के समय पर नहीं आने पर ग्रामीणों ने आक्रोश जताया।

इतनी दूरी आया हूं तो चलो बहन को मिलता जाऊं : परिवार वालों ने बताया कि कांता देवी सोमवार को अपने पीहर खमेरा के पास डूंगरिया गांव शीतकालीन में बच्चों की छुट्टियां होने के कारण रहने के लिए गई थी। बुधवार को गणपतलाल उसे लेने के लिए ससुराल गया था, जो रात वहीं रुक गया। गुरुवार सुबह दोनों वहां से निकले थे कि गणपतलाल ने सोचा कि इतनी दूर आया ही हूं तो बड़ी पडाल में रहने वाली बहन को मिलकर ही घर जाऊं। इसी सोच के साथ वह बड़ी पडाल जा रहा था कि यह हादसा हो गया।

बारी बारी से कंधा दिया, माता पिता को एक साथ दी बेटे ने मुखाग्नि

गणपत कलाल के एक बेटा और तीन बेटियां हैं। सभी विवाहित हैं। बेटे कमलेश ने बारी बारी से माता पिता की अर्थी को कंधा दिया। इसके अलावा बेटे कमलेश ने माता पिता दोनों को एक साथ ही मुखाग्नि दी। पति पत्नी की अंतिम यात्रा निकली तो चारों और रुदन ही रुदन था। बड़ोदिया निवासी गणपत पुत्र पूंजालाल और उसकी पत्नी की मौत की सूचना ने सभी झकझोर दिया। गणपतलाल पहले कुवैत में नौकरी करते थे। कुछ साल से यहीं पर कंगन स्टोर की दुकान से घर का गुजारा करते थे। बेटा भी खेतीबाड़ी में उनके हाथ बंटाता है। तीन भाइयों में गणपत मझले थे।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Couples returning from in-laws fall DIED IN ROAD ACCIDENT

[ad_2]

Source link

सड़क हादसे में बाबा की मौत, पूरी रात लाश के ऊपर से गुजरते रहे वाहन

[ad_1]



होशियारपुर। होशियारपुर जिले के गांव हरसीपिंड में गुरुवार रात सड़क हादसे में एक साधु की मौत हो गई। इसके बाद किसी ने उस पर ध्यान नहीं दिया और रातभर लाश के ऊपर से ही वाहन गुजरते रहे। नेशन हाईवे होने के कारण कितने वाहन लाश पर से गुजरे होंगे, नहीं कहा जा सकता, पर सुबह जब सड़क पर दूर-दूर तक मांस बिखरा देखा तो मानवीय संवेदनाएं जागी। फिलहाल पहचान नहीं हो पाई है, बस कपड़ों से पता चला कि वह कोई साधु था।

टांडा के एएसआईगुरबचन सिंह ने बताया कि सुबह आठ बजे एक राहगीर से हरसीपिंड के मोड़ के पास एक व्यक्ति के हादसे में मारे जाने की सूचना मिली थी। पुलिस ने तुरंत मौके पर पहुंचकर लाश के टुकड़ोंको दसूहा के सिविल अस्पताल में भिजवा दिया है और उसकी पहचान की कोशिश की जा रही हैं। अभी तक कपड़ों से ही अंदाजा लगा है कि वह कोई साधु था। उम्र लगभग 45 साल के लग रही है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


a baba gone killed in road accident and vehicles were passing over that

[ad_2]

Source link

महबूबा के आतंकी के घर जाने पर सियासी तूफान, उमर और महबूबा में चला ट्विटर वार

[ad_1]

जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के आतंकी के घर जाने के मामले में सियासी तूफान उठ खड़ा हुआ है। इस मामले में पूर्व मुख्यमंत्री और नेकां के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला और महबूबा के बीच ट्विटर वार भी हुआ।

[ad_2]

Source link

जम्मू-कश्मीर बैंक की एटीएम उखाड़ ले गए चोर, 10 लाख से ज्यादा नकदी उड़ाई

[ad_1]

जम्मू के दोमाना शामचक स्थित जेके बैंक की गुड़ा सिंघू शाखा के परिसर में लगी एटीएम को ही चोर उखाड़ ले गए। उसे काटकर दस लाख रुपये से ज्यादा की नकदी चुरा ली। क्षतिग्रस्त एटीएम अखनूर के चौकी चौरा क्षेत्र से बरामद हुई।

[ad_2]

Source link